Breaking News

Nakamoto मैंने नहीं बनाया बिटकॉइन - नाकामोतो

7-MAR-2014 । अब तक जिस शख्स को बिटकॉइन का जनक माना जा रहा था, उसने इस डिजिटल करेंसी के साथ किसी भी तरह के संबंध से साफ इनकार किया है। 
डोरियन प्रेंटिस सातोशी नाकामोतो ने एक सीधी बातचीत में कहा कि उन्होंने बिटकॉइन के बारे में सुना भी नहीं था। उन्हें पहली बार इस बारे में तब पता चला जब उनके बेटे ने उन्हें बताया कि तीन हफ्ते पहले न्यूजवीक के एक रिपोर्टर ने इस मामले में उससे संपर्क किया था।
नाकामोतो ने स्वीकार किया कि न्यूजवीक की रिपोर्ट में कई बातें सच हैं। यह कि उन्होंने एक मर्तबा सेना के लिए काम करने वाले एक ठेकेदार के साथ काम किया था। यह भी कि जन्म के समय उनका नाम सतोशी रखा गया था। लेकिन उन्होंने इस दावे को पूरी तरह खारिज कर दिया कि बिटकॉइन उनके दिमाग की ऊपज है। उन्होंने बार-बार कहा, 'मेरा इससे कोई लेना-देना नहीं है।' दूसरी तरफ न्यूजवीक अपनी रिपोर्ट को सही ठहरा रहा है।
बिटकॉइन वर्ष 2009 में अस्तित्व में आया था। लेकिन, यह किसके या किन लोगों के दिमाग की ऊपज है, यह एक रहस्य बना हुआ है। रिपोर्टें आती रहीं कि इसके संस्थापक सातोशी नाकामोतो नामक शख्स या समूह है, लेकिन कई विश्लेषकों का मानना है कि यह छद्म नाम है।
बहरहाल, नाकामोतो ने कहा, 'हकीकत यही है कि इससे (बिटकॉइन) मेरा कोई लेना-देना नहीं है। कहा जा रहा है कि मैंने इसकी शुरुआत की और अब इससे दूरी बना ली है। मैंने ऐसा कुछ नहीं किया। मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं।'
उधर, न्यूजवीक के ली मैक्ग्रा गुडमैन का कहना है, 'मैं अपने उस दावे पर पूरी तरह कायम हूं कि नाकामोतो से मेरी बातचीत हुई है। इस बातचीत के संदर्भ को लेकर कोई भ्रम भी नहीं था। उन्हें पूरी तरह पता था कि यह बातचीत बिटकॉइन के साथ उनके संबंधों को लेकर है।'
बिटकॉइन टेक्नोलॉजी के प्रति गहरा लगाव रखने वाले और आजाद-खयाल लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय हुआ, लेकिन पिछले दिनों इसके सबसे बड़े एक्सचेंज माउंट गॉक्स (जापान) के दिवालिया हो जाने के बाद इस डिजिटल करेंसी की विश्वसनीयता पर गंभीर सवाल उठने लगे हैं। Source : Khabar .Ndtv.com



No comments